दाद खाज को रोकने के घरेलू नुस्खे, जरूर आजमाइए

By | October 24, 2017
Loading...

दाद खाज को रोकने के घरेलू नुस्खे, जरूर आजमाइए


दाद एक चर्म रोग है। यह फंगल इन्‍फेक्‍शन की वजह से होता है। यह बीमारी व्यक्ति की हथेलियों, एड़ियों, सिर की त्वचा, जांघों, बगल और शरीर के किसी भी भाग में हो सकती है। दाद अधिक खुजली करने से बढ़ता है। गर्मियों में दाद होने की संभावना बढ़ जाती है। दाद, खाज, खुजली एक गंभीर चर्म रोग है।

यदि समय पर ध्‍यान नहीं दिया जाये तो यह त्‍वचा पर काफी अधिक मात्रा में बढ़ जाता है और कितना भी एंटी फ़ंगल क्रीम आदि का उपयोग करने के बाद भी सही नहीं होता है। खासतौर से गुप्‍तांगों के आसपास यह तेज़ी से बढ़ता है। जो कि थोड़े समय बाद  त्वचा पर काले निशान भी छोड़ देता है जिसे एक्ज़िमा कहते हैं।

loading...
दाद जिस स्थान पर होता है वहां पर अत्यधिक खुजली होती है और जब व्यक्ति इसे खुजलाने लगता है तो यह और फैलने लगता है। संक्रमित व्यक्ति की कंघी, टॉवल या उसके कपड़ों को उपयोग में लाने से यह किसी और को भी हो सकता है। इसमें त्वचा लाल हो जाती है और त्वचा पर छोटे छोटे निशान पड़ जाते हैं। यह अवस्था काफी कष्टदायक होती है।

आइये जानते हैं इससे बचने के आसान और घरेलू उपाय :

दाद के इलाज में सबसे पहला कदम अपने शरीर को साफ़ रखना है। शरीर को गीला न छोड़ें, हमेशा सूखा रखने की कोशिश करें। नहाते समय एंटी फंगल या मेडिकैटेड साबुन का इस्तेमाल करें। कॉटन के कपड़े पहनें। दूसरों के कपड़े, टॉवल, बेड शीट, ब्रश का उपयोग ना करें।
  • लहसुन में पाया जाने वाला एजोन, एक प्राकृतिक एंटी फंगल है जिसका उपयोग कई तरह के कवक संक्रमणों से बचने के लिए किया जाता है। दो लहसुन की कलियों को दो या तीन लौंग के साथ पीस कर इसे दाद पर चार पांच दिन तक लगाएं, दाद जल्दी सही होगा।
  • कपूर को नारियल तेल के साथ अच्छे से मिलाकर दाद पर लगाएं आराम मिलेगा।
  • सेब का सिरका अपने एंटीबायोटिक और कसैले गुणों की वजह से त्वचा के संक्रमण का इलाज करने के लिए लिए काफी लाभकारी होता है। थोड़े से सेब के सिरके को रुई से लेकर दाद वाले स्थान पर दिन में दो तीन बार लगाने से आराम मिलता है।
  • ताजे एलोवेरा से रस को दाद वाली जगह पर लगाने से काफी आराम मिलता है।
  • थोड़ी सी मुल्तानी मिट्टी में गुलाब जल डाल कर दाद वाली जगह लगाने से आराम मिलता है।
  • पपीते में एंटीफंगल गुण पाए जाते हैं। कच्चे पपीते के टुकड़े को दाद के स्थान पर रगड़ने के बाद 15 मिनट तक वैसे ही छोड़ दें और बाद में गर्म पानी से अच्छी तरह से धो लें। ऐसा कुछ दिनों तक करने से दाद में राहत मिलेगी।
  • तुलसी की कुछ पत्तियों को तोड़ कर थोड़े से नमक के साथ मिलाकर पीस लें, फिर इसके रस को दाद पर कुछ दिन तक लगाने से दाद जड़ से खत्म हो जाएगा।
  • नीम की पत्तियों को साफ़ कर उनका पेस्ट बना लें और दाद वाली जगह पर दिन में 3 से 4 बार लगायें।
  • गुनगुने देसी घी को दाद पर लगाने से ख़ारिज कम होती है।

Source

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *