दिमाग को शांत करता है मेडिटेशन

By | December 31, 2016

दिमाग को शांत करता है मेडिटेशन


जिनमें एकाग्रता की कमी होती है वे बहुत चिंचित, उदास, चिड़चिड़े और सहमे से रहते हैं। कुछ अपराध भावना व हीनभावना के शिकार भी हो जाते हैं। आत्मविश्वास की कमी, असुरक्षा की भावना, कुंठा, गुस्सा, चिड़चिड़ापन व घबराहट बढ़ जाती है। ऐसे में विशेषज्ञ भी मैडिटेशन के सलाह देते है क्यूंकि ध्यान लगाने से एक संतुष्टि प्राप्त होती है और इंसान खुद को पहले से कही अधिक रिलैक्स महसूस करता है।
%e0%a4%a6%e0%a4%bf%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%97-%e0%a4%95%e0%a5%8b-%e0%a4%b6%e0%a4%be%e0%a4%82%e0%a4%a4-%e0%a4%95%e0%a4%b0%e0%a4%a4%e0%a4%be-%e0%a4%b9%e0%a5%88-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%a1%e0%a4%bf

loading...


मेडीटेशन, तनाव को कम करता है और दिमाग को शांत करता है, इसे करने से शरीर का कॉरटिसोल हारमोन सही मात्रा में रहता है। मेडीटेशन करने से हमें खुद के बारे में सही-गलत का पता चलता है। इसे करने से हर व्यक्ति को अपने मांइडस्पॉट का पता चलता है जो हमें वास्तविकता से परे दोषों से दूर रखता है।

व्यक्ति नियमित रूप से मेडीटेशन करता है तो दिमाग को सुरक्षात्मक तरीके से बदल सकता है जिससे उसे कोई भी नुकसान नहीं होगा।



अगर आपको बहुत गुस्सा आता है और कई बार आप अपना कंट्रोल भी खो देते है तो मेडीटेशन करने से आराम मिलता है। टीनएजर्स बहुत ज्यादा तनाव में रहते है, अगर वह नियमित रूप से मेडीटेशन करते है तो उनमें तनाव दूर होगा और वह खुश रहेगें।

जो लोग वजन घटाने के इच्छुक है, अगर वह पूरे मन से मेडीटेशन करें तो उन्हे लाभ होगा। मेडीटेशन करने से मूड और इमोशन कंट्रोल में रहते है और नींद अच्छी आती है।

Source



loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *